Did Durga Vahini lady defeat a Pakistani woman wrestler ?

Spread the truth:

A video is viral claiming Sandhya, a RSS Durga Vahini member defeated a Pakistani woman wrestler in Mumbai

Year 2016 –

Rishi Bagree has posted fake many times earlier, caught by many and has blocked SMHoaxSlayer on twitter also.

Check one of them – https://smhoaxslayer.com/quote-wasnt-spoken-others/

Updated in 2018

“मुंबई: एक राष्ट्रीय स्पर्धा में पाकिस्तानी फ्री स्टाइल रेस्लर ने सभी को हराकर हिन्दुस्तान के खिलाफ अपशब्दों का प्रयोग किया और हिंदुस्तानी दर्शकों को चुनौती तक दे डाली। पाक महिला रेसलर ने चुनौती दी कि किसी हिन्दुस्तानी में हिम्मत है तो आगे आकर उसके साथ रिंग में दो-दो हाथ करे।

काफी देर तक कोई भी उसका मुकाबला करने को तैयार नहीं हुआ। फिर उसकी चुनौती स्वीकार की भगवा सलवार सूट पहनी हुई VHP की महिला इकाई दुर्गावाहिनी की एक जिला स्तरीय महिला स्वयंसेवक संध्या फडके ने। रिंग में उतरकर संध्या ने पाकिस्तानी रेसलर को इस तरह से घसीटा जैसे संध्या ने रेसलिंग में महारथ हासिल कर रखी हो। संध्या और पाकिस्तानी रेसलर का वीडियो फेसबुक पर तेजी के साथ वायरल हो रहा है।”

झूठ: महिला पहलवान ने भारत के खिलाफ अपशब्द कहे तो एक भगवा सलवार कमीज पहने, विश्व हिंदू परिषद् की महिला ने उसे रिंग में जाकर पटक दिया

1. http://www.nationalvoice.in/categorydetails.aspx?newid=9309
2. http://www.journalistcafe.com/women-activists-of-the-vhp-vs-pakistani-wrestler/

सच: 1. महिला पहलवान ने हिंदुस्तान के खिलाफ कोई अपशब्द नहीं कहा
2. सलवार कमीज वाली लड़की पे ज्यादा भार उसके “भगवा” रंग और “दुर्गा वाहिनी, विश्व हिन्दू परिषद्” पे दिया न की सिर्फ भारतीय होने पे। दोनों भारतीय हैं, और दोनों प्रॉफेशनल महिला पहलवान हैं। तो आप समझ ही गए होंगे ?

Zee News Reported –

“ग्रेट खली की शिष्या को रिंग में धूल चटाने वाली पंजाबी लेडी कौन है?

रिंग में द ग्रेट खली की स्टूडेंट को हराने वाली सलवार कमीज वाली महिला का असली सच सामने आ गया है। दरअसल रिंग में महिला पहलवान बुलबुल को ढेर करने वाली महिला कोई और नहीं, बल्कि कविता पेशे से प्रोफेशनल रेसलर हैं। कविता डब्ल्यूडब्ल्यूई रेसलर द ग्रेट खली के सुपर स्टार्स में शामिल हैं। कविता हरियाणा के जिला जींद के गांव मालवी की रहने वाली हैं और हरियाणा पुलिस में काम कर चुकी हैं। वो भी इन दिनों सशस्त्र सीमा बल में तैनात हैं।”

 

You can watch the genuine videos here –

Debunked in Sep 2016 –

 

Hoax Slayer
Follow/Like

Spread the truth:

Hoax Slayer

SMHoaxSlayer is India's largest and oldest Fact Checker. Started in Aug 2015, it had debunked more than 2000 Fake News till now. Check more at smhoaxslayer.com/team

Leave a Reply

Your email address will not be published.